RELIGION

भगवान शिव की महिमा है अपरमपार

भगवान शिव की महिमा जिस तरह अपरमपार है उसी तरह उनका बहुत बड़ा परिवार है। परिवार में सभी द्वंद्वों और द्वैतों का अंत दिखता है। एकादश रुद्र, रुद्राणियां, चौंसठ योगिनियां, षोडश मातृकाएं, भैरव आदि इनके सहचर और सहचरी हैं। माता पार्वती की सखियों में विजया आदि प्रसिद्ध हैं। गणपति परिवार में उनकी पत्नी सिद्धि बुद्धि तथा शुभ और लाभ दो ...

Read More »

श्रीफल गणेशजी के मंदिर में पूजा करें

मध्य प्रदेश के इंदौर में एकाक्षी नारियल वाले यानी श्रीफल गणेशजी का अनोखा मंदिर है। इस मंदिर में भगवान गणेश के दर्शन कर हर कोई भक्त उन्हें देख चौंक जाता है। दरअसल यह गणेश जी की प्रतिमा एक नारियल से उभरी हुई है, जिसमें स्वयंभू प्रभु ने एकदंत मस्तक, मुकुट, नेत्र, कान, गर्दन, सूंड, मुंह, जिव्हा ने मूर्त रूप लिया। ...

Read More »

भगवती दर्शन के साथ ही बर्फ देखने की इच्छा तो आएं वैष्णो देवी के दरबार में

कटड़ा-वैष्णो देवी (जम्मू कश्मीर)। अगर आप एक पंथ दो काज अर्थात बर्फीली चोटियों की सैर और मां भगवती के दर्शनों की इच्छा रखते हैं तो वैष्णो देवी के दरबार में चले आईए। मंगलवार को हुई ताजा बर्फबारी के कारण बर्फ की सफेद चादर से ढंकी त्रिकुटा पर्वत की चोटियां ही नहीं यात्रा मार्ग में अनेकों स्थानों पर जम रहे बर्फ ...

Read More »

हटकेश्वर महादेव मंदिर के साथ जुड़ी है एक दिलचस्प कहानी

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में महादेव घाट पर हटकेश्वर महादेव का चमत्कारिक मंदिर है। खारुन नदी के तट पर स्थित महादेव मंदिर के पीछे त्रेता युग की एक दिलचस्प कहानी जुड़ी हुई है। जिसके चलते यहां देशभर ही नहीं विदेशों से भी श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं। यह मंदिर खारुन नदी के तट पर होने की वजह से महादेव ...

Read More »

भगवान दत्तात्रेय के चमत्कारी मंदिर में पूरी होती है भक्तों की हर मनोकामना

हिंदू धर्म में भगवान दत्तात्रेय को त्रिदेव, ब्रह्म, विष्णु और महेश का एकरुप माना गया है। मान्यताओं के अनुसार श्री दत्तात्रेय भगवान विष्णु के छठवें अवतार हैं। भगवान दत्तात्रेय की जयंती मार्गशीर्ष माह में मनाई जाती है। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में ब्रह्मपुरी स्थित श्री दत्तात्रेय भगवान का मंदिर है। मंदिर के पुजारी माधेश्वर प्रसाद पाठक ने बताया कि यह ...

Read More »

बिना सूंड के गणेश इस मंदिर में हैं विराजमान

भगवान गणेश की मूर्ति का प्रमुख अंग है उनकी सूंड। उनकी सूंड को भविष्यवक्ता माना जाता है, कहा जाता है कि वो अपनी सूंड से आने वाली चीजों को भांप लेते हैं। लेकिन हमारे देश में एक मंदिर ऐसा भी है जहां बिना सूंड वाले गणेश की पूजा की जाती हैं। लोगों ने हमेशा गणेश जी की खड़ी या बैठी प्रतिमा ...

Read More »

कवर्धा के भोरमदेव मंदिर में करें शिवलिंग के दर्शन,

कवर्धा। छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में 10वीं सदी के भोरमदेव मंदिर में शिवलिंग के दर्शन के बाद सुकून मिलता है। मंदिर देवताओं और मानव आकृतियों की उत्कृष्ट नक्काशी के साथ मूर्तिकला के चमत्कार के कारण सभी की आंखों का तारा है। यहां पूजन करने के लिए हर वर्ष देश ही नहीं विदेशों से भी श्रद्धालु पहुंचते हैं। भगवान शिव को ...

Read More »

भले डॉक्टर जवाब दे दे लेकिन भक्तों के कष्ट हर लेती हैं दुधाखेड़ी माँ

भानपुरा। धरती के भगवान यानी डॉक्टर भी कई गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों के इलाज नहीं होने और जिंदगी के कुछ ही दिन बचने की बात बोल देते हैं, तब भी मरीज और उनके परिजन निराश नहीं होते हैं। जी हां, आस्था और विश्वास का सबसे बड़ा दरबार मंदसौर जिले में श्री दुधाखेड़ी मां के मंदिर परिसर में लगता है। ...

Read More »

औरंगजेब भी नहीं कर पाया था माता के इस मंदिर को खंडित

हमारे देश में दुर्गा मां को शक्ति की देवी के रूप में पूजा जाता है। दुर्गा मां के कई रूप और अवतार हैं। पूरे भारत में नवरात्रा के अवसर पर माता के मंदिरों में श्रद्धालुओं की अपार भीड़ उमड़ पड़ती है। आस्था से भरे इस देश में माता का स्थान सबसे ऊपर है। राजस्थान के शेखावाटी क्षेत्र में सीकर-जयपुर मार्ग ...

Read More »

विजयादशमी पर किये जाने वाले हर काम में निश्चित होती है विजय

आश्विन मास के शुक्ल पक्ष को दशहरा का त्योहार मनाया जाता है। मां भगवती के विजया स्वरूप पर इसे विजयादशमी भी कहा है। इसी दिन भगवान श्रीराम ने रावण का वध कर लंका पर विजय प्राप्त की थी इसलिए भी इस पर्व को विजयादशमी कहा जाता है। हिन्दुओं का यह प्रमुख त्योहार असत्य पर सत्य की जीत तथा बुराई पर ...

Read More »
giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu