अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रपति ट्रंप ने किया अमेरिकी लोगों से एकजुट होने का आग्रह

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नस्लीय रैली पर उनकी प्रतिक्रिया से हुई आलोचना के बाद अमेरिका के सभी पृष्ठभूमियों के लोगों से एकजुट होने का आग्रह किया। उन्होंने कहा, ‘‘अमेरिका के लिए प्यार को उसके सभी लोगों के लिए प्यार की जरूरत है। जब हम अपने दिल खुले रखते हैं तो नफरत और नफरत के लिए कोई जगह नहीं होती।’’ ट्रंप ने कहा, ‘‘जिन युवा पुरुषों और महिलाओं को हम विदेशों में लड़ने के लिए भेजते हैं तो उन्हें ऐसे देश में वापस लौटने का अधिकार है जो खुद अपने घर में लड़ाई से ना जूझ रहा हो।’’ राष्ट्रपति ने अफगान रणनीति पर देश को दिए संबोधन के दौरान यह बात कही। उनकी यह टिप्पणी तब आई है जब दो सप्ताह से भी कम समय पहले वर्जीनिया के शारलोट्सविले में नव-नाजीवादियों की रैली में खून खराबा हुआ। ट्रंप ने इस हिंसा के लिए ‘‘दोनों पक्षों’’ को जिम्मेदार ठहराया था जिसके बाद उनकी अपनी रिपब्लिकन पार्टी समेत कई लोगों ने उनकी तीखी आलोचना की। वर्जीनिया में रैली के दौरान श्वेतों को सर्वश्रेष्ठ मानने वाले नस्लवादी ने विरोधी प्रदर्शनकारियों पर अपनी कार चढ़ा दी थी जिससे एक महिला की मौत हो गई थी। ट्रंप के बयान से राजनीतिक तूफान पैदा हो गया था। उनके इस बयान से नाराज वरिष्ठ व्यवसायी कार्यकारियों ने उनकी आर्थिक सलाहकार परिषदों से इस्तीफा दे दिया था।

giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu