उत्तर कोरिया के नेता ने और अधिक मिसाइल दागने की मांग की

सरकारी मीडिया ने कहा है कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने गुआम को निशाना बनाने के लिए अपने देश की क्षमता बढ़ाने के उद्देश्य से प्रशांत महासागर को निशाना बनाते हुए और अधिक मिसाइल दागने की मांग की है। एक दिन पहले ही उत्तर कोरिया ने परमाणु संबंधी पेलोड को ले जाने के लिए बनाई गई मिसाइल को पहली बार इस तरह दागा था कि मिसाइल जापान के ऊपर से होती हुई प्रशांत महासागर में गिरी थी। मंगलवार को उत्तर कोरिया द्वारा अमेरिका के सहयोगी के ऊपर से दागी गई मिसाइल एक तरह से वाशिंगटन और सोल के सालाना सैन्य अभ्यास को दिया गया सीधी चेतावनी वाला संदेश था। द कोरियाई सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने कहा है कि यह मिसाइल दागना शक्ति प्रदर्शन का एक तरीका था। यह अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच चल रहे ‘‘उल्ची फ्रीडम गार्डियन’’ संयुक्त सैन्य अभ्यास के कदम के विरोध में उठाया गया कदम था। यह सैन्य अभ्यास कल समाप्त हो रहा है। प्योगयांग इस सैन्य अभ्यास को उत्तर कोरिया पर हमले के पूर्वाभ्यास के तौर पर देखता है और जब कभी ऐसे सैन्य अभ्यास आयोजित होते हैं तो वह हथियार परीक्षण या अपनी बयानबाजी तेज कर देता है। केसीएनए की खबर में कहा गया है कि मिसाइल मध्यम दूरी की ह्वासोंग-12 है। इस मिसाइल का सफल परीक्षण उत्तर कोरिया ने मई में किया था और इस महीने की शुरूआत में गुआम के निकट जल क्षेत्र में इसे दागने की चेतावनी भी दी थी।

giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu