ओल्टमैंस के साथ चयन को लेकर मतभेद थे: डेविड जान

अंतरिम राष्ट्रीय हॉकी कोच डेविड जान ने स्वीकार किया कि बर्खास्त किए गए रोलैंट ओल्टमैंस के साथ चयन प्रक्रिया को लेकर उनके मतभेद थे लेकिन स्पष्ट किया कि उन्हें बाहर करने का सिर्फ यही कारण नहीं था। जान ने कहा, ‘‘ओल्टमैंस की कोचिंग की शैली को लेकर मुझे कोई मतभेद नहीं थे। चयन मामलों में हमारा नजरिया अलग था। मुझे लगता था कि कुछ युवा खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय अनुभव दिए जाने की जरूरत है। मैं खिलाड़ियों के बिना किसी अनुभव के दो साल तक शिविर में रहने पर विश्वास नहीं करता। उनके कौशल को तराशने की जरूरत है।’’ भारत में साढे़ चार साल के कार्यकाल के दौरान काफी हद तक सफल रहे ओल्टमैंस को कल बर्खास्त किए जाने के बाद हाई परफोर्मेंस निदेशक जान ने पुरुष टीम के अंतरिम कोच की जिम्मेदारी संभाली। हॉकी इंडिया की हाई परफोर्मेंस एवं विकास समिति की तीन दिवसीय बैठक के खत्म होने के बाद यह फैसला किया गया। यह पूछने पर कि क्या ओल्टमैंस को बाहर करने का कारण चयन मतभेद थे, जान ने कहा कि यह उनका फैसला नहीं था बल्कि समिति ने सर्वसम्मति से यह फैसला किया। उन्होंने कहा, ‘‘यह (ओल्टमैंस के साथ मेरे मतभेद) निश्चित तौर पर कारण नहीं था (भारतीय टीम के कोच की बर्खास्तगी का)। टीम और ओल्टमैंस ने भी प्रस्तुतिकरण दिया। इसके बाद समिति ने नया कोच ढूंढने का सर्वसम्मत फैसला किया।’’ जान ने साथ ही स्पष्ट किया कि वह कुछ सीनियर खिलाड़ियों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करते हैं। उन्होंने साथ ही बताया कि नये कोच की तलाश अगले हफ्ते शुरू होगी।

Leave a Reply

giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu