ट्रुडो ने की उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण की निंदा

अपनी छठें परमाणु परीक्षण की सफलता की घोषणा करते हुए उत्तर कोरिया ने इसे अपनी सफलता में एक और कदम बताया, जबकि विश्व के अन्य देशों ने इसकी आलोचना की हैं।
टोरंटो। प्रधानमंत्री जस्टीन ट्रुडो ने वैश्विक परिस्थितियों को देखते हुए उत्तर कोरिया द्वारा किए परमाणु बम परीक्षण की कड़े शब्दों में निंदा की और कहा कि इस प्रकार के परीक्षण न केवल विश्व की शांति को भंग करते हैं, बल्कि प्राकृतिक आपदाओं को भी बढ़ाते हैं और इस प्रकार दोनों अवस्थाओं में ही आम लोगों की जीवन अस्त-व्यस्त हो जाता हैं। उन्होंने आगे कहा कि कैनेडा सदैव ही शांति का अग्रणी रहा हैं और इस प्रकार के कार्यों की उसने सदा आलोचना ही की हैं। उसके लिए चाहे कितना ही बड़ा विकसित देश क्यों न हो, उससे नाराज न हो जाएं। उत्तर कोरिया द्वारा इस परीक्षण ने उसकी ‘आक्रमणकारीÓ नीति सबके सामने आई हैं जो विश्व शांति के लिए खतरनाक हैं। गौरतलब हैं कि अमेरिका की चेतावनी को अनसुना करते हुए उत्तर कोरिया ने एक बार फिर हाईड्रोजन बम का परीक्षण किया है। भूकंप संबंधी जानकारी देने वाली निगरानी संस्थाओं ने उत्तर कोरिया के मुख्य परमाणु स्थल के निकट 6.3 तीव्रता का विस्फोट दर्ज किया है। इसके बाद उत्तर कोरिया ने भी इस परीक्षण की पुष्टि करते हुए कहा कि उसने हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया, जो पूरी तरह सफल रहा। उसने दावा किया कि उत्तर कोरिया की लंबी दूरी की मिसाइलों से भी दागा जा सकता है। विशेषज्ञों ने बताया कि इस धमाके की ताकत पिछले या पांचवें परीक्षण से 9.8 गुना ज्यादा थी। इसी बीच, जापान ने पुष्टि की है कि उत्तर कोरिया ने रविवार को परमाणु परीक्षण किया। जापान ने इस संबंध में प्योंगयांग के पास औपचारिक विरोध दर्ज कराया है। जापान के विदेश मंत्री तारो कोनो ने बताया कि उत्तर कोरिया ने परमाणु परीक्षण किया है। उन्होंने कहा सरकार ने पुष्टि से पहले बीजिंग में उत्तर कोरियाई दूतावास में विरोध दर्ज करा दिया है। उन्होंने कहा किसी भी परीक्षण को क्षमा नहीं किया जा सकता। उत्तर कोरिया के एक और परमाणु परीक्षण करने के बाद कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव बढ़ गया है। इसके कुछ ही घंटों पहले प्योंगयांग ने दावा किया था कि उसने एक ऐसा हाईड्रोजन बम विकसित किया है जिससे देश की नई अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल में लोड किया जा सकता हैं।परमाणु परीक्षण को लेकर जापान सरकार के पुष्टि करने से पहले जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा, यदि उत्तर कोरिया परमाणु परीक्षण करता है तो यह कतई स्वीकार्य नहीं होगा। इससे पहले, दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ ने एक बयान में बताया कि उत्तर कोरिया के पुंग्ये री परीक्षण स्थल के निकट भूकंप के झटके आने का पता चला है। अमेरिका जियोलॉजिकल सर्वे ने 6.3 तीव्रता का झटका दर्ज किया हैं। यूएसजीएस भूभौतिकीविद् जाना पर्सले ने कहा कि यह भूकंप की जगह एक विस्फोट था।

Leave a Reply

giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu