तलवार दंपति को निर्दोष साबित करने में नौ साल लग गए: कोंकणा

अभिनेत्री कोंकणा सेन शर्मा ने वर्ष 2008 में हुए सनसनीखेज आरुषि-हेमराज हत्याकांड से तलवार दंपति को बरी करने के इलाहाबाद उच्च न्यायालय के फैसले की सराहना की और कहा कि यह शर्मनाक है कि असली हत्यारों की अब तक पहचान नहीं हो सकी है। अदालत ने कहा था कि उपलब्ध साक्ष्यों के आधार पर तलवार दंपति को दोषी नहीं ठहराया जा सकता है। इस फैसले के चलते उन्हें नौ वर्ष की लंबी अवधि के बाद राहत मिली है। सीबीआई की अदालत ने तलवार दंपति को उनकी 14 वर्षीय बेटी आरुषि की हत्या का दोषी ठहराया था। मेघना गुलजार की फिल्म ‘तलवार’ में कोंकणा ने आरुषि की मां नुपूर तलवार की भूमिका निभाई थी। कोंकणा ने रात जियो मामी 19वां मुंबई फिल्म फेस्टिवल के उद्घाटन समारोह में संवाददाताओं से कहा, ‘‘ यह एक शानदार खबर है। तलवार दंपति के लिए मैं बहुत खुश हूं। उन्हें निर्दोष साबित करने में नौ वर्ष का समय लगा, यह शर्मिंदगी की बात है। यह भी एक त्रासदी है कि हमें अभी तक पता नहीं चला है कि आरुषि और हेमराज के कातिल आखिर कौन हैं। ’’ फिल्म की पटकथा लिखने वाले विशाल भारद्वाज ने कहा, ‘‘ सिनेमा के लिए इससे बड़ी जीत और कुछ नहीं हो सकती। ’’भारद्वाज ने कहा, ‘‘ फिल्म का इतना ज्यादा प्रभाव पड़ा। हम सब यही चाहते थे। मैं परिवार, माता-पिता के लिए बहुत खुश हूं। जो नौ वर्ष उन्होंने खो दिए उन्हें वापस नहीं लाया जा सकता है लेकिन जो न्याय हमें मिला है वह भारत की पूरी न्यायपालिका के लिए एक बड़ी चीज है।’’ उन्होंने कहा कि इस मामले को फिर से खबरों में लाने में फिल्म ने बड़ी भूमिका निभाई।

giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu