पब्लिक वाई-फाई यूज़ करते हैं तो सुरक्षा की इन बातों का जरूर ध्यान रखें

आज की तेज़ रफ्तार ज़िंदगी में जहां आए दिन टेक्नॉलिजी और बाज़ार में रोज़ फेरबदल होते रहते हैं वहीं लोग हर वक्त इंटरनेट के ज़रिये दुनिया से जुड़े रहना चाहते हैं। घर हो या ऑफिस, हम हर जगह इंटरनेट से जुड़े रहने की कोशिश करते रहते हैं। हालांकि कई बार हम ऐसी जगहों पर भी होते हैं जहां हम मोबाइल इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं कर पाते हैं। ऐसे में पब्लिक वाई-फाई से कनेक्ट होना हमारा एकमात्र साधन बन जाता है। सरकार या फिर कुछ प्राइवेट कंपनियों ने कई जगह पब्लिक वाई-फाई उपलब्ध करवा रखा है। चाहे वो मेट्रो स्टेशन हो या रेलवे स्टेशन हो या फिर कोई शॉपिंग मॉल, लगभग सभी जगह पब्लिक फ्री वाई-फाई मौजूद है लेकिन यह पब्लिक वाई-फाई सेफ नहीं होते हैं। जिसका इस्तेमाल करने से यह हमारे लिए काफी घातक साबित हो सकते हैं। जैसे कि इसके इस्तेमाल से पर्सन्ल डेटा, पासवर्ड, फाइनेंनशियल या अन्य कोई इन्फोरमेशन को चुराया जा सकता है।

आज हम आपको यहां ऐसी ही कुछ सिक्योर स्ट्रैटजी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आप सभी पब्लिक वाई-फाई से कनेक्ट होते हुए भी अपने आप को सेफ रख सकते हैं। चलिए डालते हैं एक नज़र इन सभी ट्रिक्स पर-
 
1. मोबाइल एंटी-वायरस टूल्स:- जब कभी भी आप पब्लिक वाई-फाई का इस्तेमाल करें, उससे पहले ये सुनिश्चित कर लें कि मोबाइल में सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर इंस्टाल्ड है या नहीं। एंड्रॉयड यूज़र्स के लिए यह एक सॉफ्टवेयर फायरवॉल का काम करता है। अगर आप का मोबाइल अनसेक्योर्ड वाई-फाई से कनेक्ट होता है तो यह आपको रिस्क दिखाता है और उस रिस्क को स्कैन करके रीमूव कर देता है।
 
2. फोन का ऑपरेटिंग सिस्टम अप-टू-डेट:- आपके फोन का ऑपरेटिंग सिस्टम अप-टू-डेट होना चाहिए। मोबाईल का ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट रखने से ना केवल आपको फोन में नए फीचर्स मिलते हैं, बल्कि इससे फोन की सिक्योरिटी भी बढ़ती है। मोबाइल के ऑपरेटिंग सिस्टम को अपडेट करने से मोबाइल में मौजूद वायरस को भी निकाल देता है।
3. ऑनलाइन शॉपिंग और बैंकिंग से परहेज़:- जब कभी भी आप पब्लिक वाई-फाई का इस्तेमाल करें तो ऑनलाइन शॉपिंग या बैंकिंग ना करें। क्योंकि जैसे कि आपको बताया गया है कि ये पब्लिक वाई-फाई अनसेफ होते हैं तो पब्लिक वाई-फाई पर ये दोनों ही काम ना ही करें तो अच्छा होगा। पब्लिक वाई-फाई सिक्योर नहीं माने जाते हैं और ऐसा हो सकता है कि कोई हैकर आपका पासवर्ड चुरा ले जिससे आपको आगे जाकर परेशानी हो सकती है।
4. स्लो पब्लिक वाई-फाई यानी डेंजर:- जब भी आप ओपन वाई-फाई नेटवर्क इस्तेमाल करने जाएं तो उससे पहले ओपन वाई-फाई नेटवर्क को ओपन कर के देख ज़रूर लें की क्या कनेक्शन स्लो है? क्या आपको पेज साइन-इन करने में परेशानी हो रही है या काफी टाइम लग रहा है? अगर ऐसा है तो अच्छा होगा कि आप पब्लिक वाई-फाई को लॉग-आउट कर दें। स्लो नेटवर्क के कारण कई बार यह भी होता है कि किसी ने राउटर के साथ छेड़खानी की हो, जिससे आपको राउटर से सीधा डेटा नहीं मिल रहा हो। तो स्लो कनेक्शन से कभी भी अपना डीवाइस कनेक्ट ना करें।
5. टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन का इस्तेमाल:- टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन का मतलब ये है कि जब भी आप किसी ऑनलाइन सर्विस को लॉग-इन करते हैं तो वहां आपको दो सिक्योरिटी लेयर्स से गुज़रना पड़ता है। पहली सिक्योरिटी लॉग-इन क्रेडन्शियल की होती है और सिक्योरिटी में एक कोड आपके मोबाइल पर जेनरेट होता है, जो काफी ज्यादा सेफ होता है। बिना उस कोड के आप कोई भी ट्रांज़ैक्शन या फिर किसी भी वेबसाइट पर लॉग-इन नहीं कर सकते हैं।
 
6. वाई-फाई को इस्तेमाल करते ही बंद कर दें:- ये ट्रिक बेहद ही आसान है, अपने मोबाइल को सेफ रखने के लिए। लेकिन ज्यादातर लोग फ्री वाई-फाई को इस्तेमाल करके उसे बंद करना भूल जाते हैं। जो आपकी सिक्योरिटी के लिए एक बड़ा खतरा बन सकता है। पब्लिक वाई-फाई को बंद करने से आपके मोबाइल की बैटरी भी खर्च होने से बचेगी।
तो ये थे कुछ ट्रिक्स जिससे आप पब्लिक वाई-फाई को सेफली यूज़ कर सकते हैं और किसी भी लॉस से बच सकते हैं।
giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu