पाक की भ्रष्टाचार निरोधी अदालत ने डार के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया

पाकिस्तान की एक भ्रष्टाचार निरोधी अदालत ने पनामा पेपर्स लीक कांड से जुड़े भ्रष्टाचार के एक मामले में पेश न होने पर आज वित्त मंत्री इसहाक डार के खिलाफ जमानती गिरफ्तारी वांरट जारी किया। एहतिसाब (जवाबदेही) अदालत ने मामले में व्यक्तिकगत पेशी से छूट मांगने के डार के आवेदन को खारिज कर दिया। डार के वकील ख्वाजा हारिस न्यायाधीश मुहम्मद बशीर की अदालत में पेश हुए और डार को इस आधार पर व्यक्तिगत पेशी से छूट देने का आग्रह किया कि वह उपचार कराने के लिए लंदन में हैं। अदालत ने याचिका खारिज कर दी और जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। इसने आदेश दिया कि डार सुनवाई की अगली तारीख दो नवंबर को उसके समक्ष पेश हों। पाकिस्तान के कौमी एहतिसाब ब्यूरो (एनएबी) ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद डार के खिलाफ मामला दर्ज किया था। शीर्ष अदालत ने भ्रष्टाचार के आरोपों में जांच के बाद नवाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद के लिए अयोग्य घोषित कर दिया था जिसके चलते उन्हें इस पद से अपदस्थ होना पड़ा था। डार मुकदमा शुरू होने के बाद से अब तक सात बार अदालत में पेश हो चुके हैं। इससे पहले वह 20 सितंबर को पेश नहीं हुए थे। यह दूसरी बार है जब वह पेश नहीं हुए। निचली अदालत में डार की अनुपस्थिति की वजह से आज कार्यवाही आगे नहीं बढ़ पाई। बहरहाल, अभियोजन पक्ष के गवाह एवं एक निजी बैंक की संसद शाखा के प्रबंधक अब्दुल रहमान गोंदाल मंत्री के खातों से से संबंधित दो बैग दस्तावेज लेकर पेश हुए। हारिस ने आवेदन में उल्लेख किया कि डार दुशांबे में मध्य एशिया क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग मंत्री सम्मेलन में शामिल होने के बाद जेद्दा गए थे जहां वह बीमार हो गए और फिर उपचार के लिए लंदन चले गए।

Leave a Reply

giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu