पूर्व जीटीए अध्यापिका ने मुस्लिम छात्र को कहा ‘बॉम्बर’

ब्रैम्पटन के लॉगहीड मिडल स्कूल में फ्रैंच अध्यापक जूली गीयानेस्ट पर लगाया गया यह आरोप, जिन्हें इस माह ओंटेरियो कॉलेज ऑफ टीचर्स पैनल के सामने प्रस्तुत होने के लिए कहा गया।
टोरंटो। ब्रैम्पटन के एक प्रख्यात स्कूल के अध्यापिका पर अपने छात्रों के साथ बदसलूकी की एक वार्ता सामने आई, सूत्रों के अनुसार इस अध्यापक द्वारा अपने विद्यार्थियों के साथ भद्दी भाषा का प्रयोग, अशलील शब्द कहना आदि का आरोप लगाया गया है। जिसके लिए उन्हें अब ओंटेरियो कॉलेज ऑफ टीचर्स के डिसीप्लीन पैनल के सामने प्रस्तुत होकर इस बात की सफाई देनी होगी। छात्रों के अनुसार यह अध्यापिका मुस्लिम छात्रों को ‘बॉम्बर , श्वेत बच्चों को ‘क्रेकर’ और अश्वेत बच्चों को ‘चोर’ कहती थी, जिनसे उनके मानसिकता पर बुरा प्रभाव पड़ता था, जिसके आरोप के प्रति उत्तर अब उन्हें 22 नवम्बर से पूर्व पैनल के सामने प्रस्तुत होना पड़ेगा। पील डीस्ट्रीक्ट स्कूल बोर्ड के प्रवक्ता कायला टिशकॉफ ने कहा कि उन्हें इस बात का विश्वास नहीं हो रहा कि गीयानेस्ट अपने अध्यापक कार्य के दौरान इस प्रकार के भद्दे शब्दों का प्रयोग करती हो। इस प्रकार के शब्दों का प्रयोग करना यह सिद्ध करता हैं कि नगरपालिका मुक्त सूचना अधिकार का गलत प्रयोग किया जा रहा हैं। और छात्रों के कोमल मन को इस प्रकार की वार्ता करके काफी ठेस पहुंचाया जा रहा हैं, इस बात की पूर्ण जांच भली प्रकार से होनी चाहिए और दोषियों को उचित सजा देकर इसे तुरंत बंद करना चाहिए।
giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu