लिंडा जैफरी की दूसरी बार ब्रैम्पटन मेयर बनने की चाहत

जैफरी ने कहा कि उन्हें पूर्ण उम्मीद 2018 के चुनावों में वह पुन: जीतकर आएंगी
ब्रैम्पटन। अपने कार्यकाल के उथल-पुथल वाले तीन वर्षों के अंदर लिंडा जैफरी ने बहुत अधिक उतार-चढ़ाव देखा, जहां कुछ मुद्दों पर उन्हें भारी विरोध सहना पड़ा तो कई अन्य विषयों पर उन्हें सफलता का सामना भी करना पड़ा, इसके अलावा उनके उच्च अधिकारियों के ऊपर रिश्वतखोरी का आरोप भी उनकी छवि को धूमिल करते नजर आएं, परंतु बाद में वह इस स्थिति से उबर गए और अब सब कुछ सामान्य हैं, मेयर लिंडा जैफरी ने अपने संबोधन में बताया कि उन्हें पूर्ण आशा हैं कि 2018 के चुनावों में उन्हें पुन: जीत मिलेगी और जनता उनके कार्यों को सराहती हुई एक बार फिर से उन्हें सेवा का मौका देगी। कुछ माह पूर्व ही अपना चुनाव प्रचार प्रारंभ करने वाली लिंडा जैफरी को लोगों के समर्थन पर भारी उम्मीद हैं। पिछले हफ्ते एक साक्षात्कार में उन्होंने सिटी में हुए 10 बदलावों की व्याख्या की जो उनके कार्यकाल में हुए और जिनसे ब्रैम्पटन के आर्थिक व विकास कार्यों में मदद भी मिली। उन्होंने कहा कि उनकी अच्छी वित्त व्यवस्था के कारण ही आज करदाताओं को बहुत राहत हैं और क्षेत्र का विकास भी उचित प्रकार से हो रहा हैं। जैफरी का मानना हैं कि स्लोगन और वैगु स्टाईल में उनका प्रचार नहीं होता, मतदाताओं को अपने किए कार्यों की व्याख्या किजीए, तभी वे आपसे प्रभावित होंगे और आपकों दोबारा चुनेंगे। गौरतलब हैं कि जैफरी ने ही लॉबीस्ट और गिफ्ट रजिस्ट्रीस की योजनाएं प्रारंभ की और इसके अलावा उन्होंने 50,000 डॉलर के उच्च वेतन के साथ भी कार्य करने की अपनी नई नीति को सबके सामने जाहिर की, यद्यपि ऐसा करने पर वह काफी विवादों में भी आई, परंतु अपने कार्यों के कारण उन्होंने सभी विपक्षियों को शांत करवा दिया। वह कई बार समीक्षकों के निशाने पर भी आई जिसका उन्होंने डटकर सामने किया, इन्हीं कारणों से उन्हें उम्मीद हैं कि 2018 में वह दोबारा चुनकर आ सकती हैं।

Leave a Reply

giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu