भारत ने की 9 टेस्ट सीरीज जीतने के वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी

भारत ने ये सभी नौ सीरीज विराट कोहली की अगुआई में जीती हैं और उनके पूर्णकालिक कप्तान बनने के बाद से टीम ने कोई सीरीज नहीं गंवायी है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के नाम पर लगातार नौ सीरीज जीतने का रिकॉर्ड दर्ज था। उसने यह कारनामा 2005 से 2008 के बीच किया। भारत के विजय अभियान की शुरुआत 2015 में श्रीलंका की सरजमीं पर हुई जब कोहली की अगुआई में टीम ने तीन मैचों की सीरीज 2-1 से जीती और तब से भारत की जीत का क्रम जारी है। टीम इंडिया ने इस विजयी क्रम के दौरान स्वदेश में छह, श्रीलंका में दो और वेस्टइंडीज में एक सीरीज जीती। इस दौरान भारत ने 30 मैचों में से 21 मैचों में जीत दर्ज की जबकि सिर्फ दो मैचों में उसे हार झेलनी पड़ी। टीम इंडिया को ये हार श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के हाथों मिली। भारत ने पिछली टेस्ट श्रृंखला 2014-15 में ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं गंवायी थी। तब भारत को चार मैचों की सीरीज में 2-0 से हार का सामना करना पड़ा था। इसी सीरीज के दौरान भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहा था।  इस ड्रा के साथ कोटला पर भारत ने अपना अजेय अभियान जारी रखा। टीम इंडिया को इस मैदान पर पिछली हार का सामना 30 बरस से भी अधिक समय पहले नवंबर 1987 में करना पड़ा था जब वेस्टइंडीज ने उसे पांच विकेट से शिकस्त दी थी। इस मैच में वेस्टइंडीज ने चौथी पारी में पांच विकेट पर 276 रन बनाये थे जो इससे पहले भारतीय सरजमीं पर चौथी पारी में बनाया गया सर्वोच्च स्कोर था। श्रीलंका ने पांच विकेट पर 299 रन बनाकर इसे तोड़ दिया। भारत ने साथ ही स्वदेश में लगातार आठवीं सीरीज अपने नाम की। भारत ने अपनी सरजमीं पर पिछली सीरीज 2012-13 में गंवाई थी जब उसे इंग्लैंड के खिलाफ चार मैचों की श्र्ंखला में 2-1 से शिकस्त का सामना करना पड़ा था। भारत ने स्वदेश में पिछले 26 मैचों में से 20 मैचों में जीत दर्ज की है जबकि एकमात्र मैच इसी साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गंवाया।

Leave a Reply

giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu