स्कारबरो-ऐगनकोर्ट से जिते लिबरल सांसद जीन यीप 

औटवा। चार केंद्रीय उपचुनावों में से तीन सीटों पर कंजरवेटिवस और दो सीटों पर लिबलरस की कड़ी टक्कर चली, लेकिन सबसे पहले ब्रिटीश कोलम्बिया के दक्षिण सुरै-व्हाईट रॉक का परिणाम आया जहां लिबरलस ने जीत हासिल कर कंजरवेटिवस को निराश कर दिया। लिबरल उम्मीदवार गोरडी हॉग ने यह जीत 5 प्रतिशत की बढ़त से हासिल की, गौरतलब हैं कि यहां केवल 47 प्रतिशत मतदान हुआ। लिबरल उम्मीदवार हॉग ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी कंजरवेटिवस कैरी-लेयन फाइंडले को बहुत कम अंतराल से हराया, ज्ञात हो कि कंजरवेटिवस उम्मीदवार को 2015 में भी इसी प्रकार हार का सामना करना पड़ा था। वहीं दूसरी ओर न्यूफाउन्डलैंड एंड लैबराडर में लिबरल आसानी से वह सीट जीत जाएगी, माना जाता हैं कि यह सीट पूरे देश में लिबरलस की सबसे सुरक्षित सीट हैं जिसे वह आसानी से जीत सकती हैं। सामूहिक मतदान रिपोर्ट के अनुसार लिबरल चुरेंस रोजरस ने 69.2 प्रतिशत मतदान मिले, जिससे उन्हें अपने निकटतम प्रतिद्वंदी से 46 प्रतिशत अंक प्राप्त हो गए, जबकि कंजरवेटिव माईक विंडसर को जिन्हें इस सीट से 2015 में लगभग दोगुने मत मिले थे इस बार वह कहीं पीछे दिखे। 197 में से 155 मतदान के साथ टोरंटो के स्कारबरो-ऐगनकोर्ट में लिबरल के जीन यीप आगे निकल गए, ज्ञात हो कि उन्हें 49.6 प्रतिशत मत प्राप्त हुए जबकि उनके प्रतिद्वंदी कंजरवेटिव दैसॉन्ग जॉउ 40.5 प्रतिशत मत ही हासिल कर सके।परंतु प्राप्त आंकड़ों में यह भी स्पष्ट हो रहा हैं कि 2015 के उत्साहपूर्ण मत की तुलना में इस बार लिबरलस को उतना समर्थन नहीं मिल पा रहा जिसकी उन्होंने उम्मीद की थी। इन परिणामों का सबसे बुरा प्रभाव न्यू डैमोक्रेटस पर पड़ा, उनकों कहीं भी कुछ प्रतिशत मतदान भी नहीं मिले जिसके कारण उनकी पार्टी का अस्तित्व ही खतरे में आ गया हैं।
giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu